Sun. Jun 16th, 2019

Jeep Compass को टक्कर देने आ रही Volkswagen की पहली कॉम्पैक्ट SUV, इसी साल भारत में होगी लॉन्च

  •   
  •  
  •  
  •  
  •   
  •  
  •  

Volkswagen ने T-Roc को साल 2017 में फ्रैंकफर्ट मोटर शो के दौरान पेश किया था. MQB प्लेटफॉर्म पर बेस्ड T-Roc फॉक्सवैगन की बेबी SUV है. इसे अंतरराष्ट्रीय बाजार से अच्छी प्रतिक्रिया मिली है. अब ऐसा लग रहा है कि कंपनी इसे भारतीय बाजार में लाने की तैयारी में है. रिपोर्ट्स के मुताबिक इसे भारतीय बाजार में इस साल के अंत तक उतारा जा सकता है. कारएंडबाइक की रिपोर्ट के मुताबिक T-Roc को भारत में CBU (कम्प्लीटली बिल्ट यूनिट) के तौर पर ऑफर किया जाएगा. फॉक्सवैगन केंद्र सरकार के प्रोग्राम के अनुसार SUV को इंपोर्ट करेगा.

 

इस प्रोग्राम के मुताबिक एक निर्माता को देश में हर साल 2,500 यूनिट्स को होमोलॉगेशन की आवश्यकता के बिना इंपोर्ट करने की अनुमति मिलती है.T-Roc एक हुंडई Creta के साइज वाली कॉम्पैक्ट SUV है, जिसे यूरोप के डेवलप्ड बाजारों में बेचा जाता है. इसकी कीमत 17-20 लाख रुपये के आसपास भारत में रखी जा सकती है. ऐसे में इसे काफी महंगी कॉम्पैक्ट SUV मानी जा सकती है, खासतौर पर इसलिए भी क्योंकि ये क्रेटा से थोड़ी छोटी है. भारत में ये कार हुंडई Tucson और Jeep Compass को टक्कर देगी. Compass की कीमत 15.45 लाख रुपये से और Tucson की कीमत 18.74 लाख रुपये से शुरू होती है.

 

भारत की सबसे महंगी कॉम्पैक्ट SUV- ऐसे में T-Roc भारत की सबसे महंगी कॉम्पैक्ट SUV हो सकती है. T-Roc भारत में Tiguan के बाद दूसरी VW SUV होगी. हालांकि ये Tiguan से छोटी होगी और इसे Tiguan के अंदर रखा जाएगा. Tiguan की कीमत भारत में 28.07 लाख रुपये (एक्स-शोरूम) से शुरू होती है. T-Roc के जरिए फॉक्सवैगन भारत में कॉम्पैक्ट और मिड-साइड SUV सेगमेंट में मुकाबला करेगा. जहां फिलहाल कंपनी की उपस्थिति नहीं है. भारत में कॉम्पैक्ट SUV सेगमेंट में Hyundai Creta और Renault Duster जैसी कारें हैं. वहीं मिड-साइज सेगमेंट में जीप Compass, टाटा Harrier, महिंद्रा XUV500 और हुंडई Tucson जैसी कारें हैं. जहां एक तरफ कॉम्पैक्ट SUV सेगमेंट की कारें 9 लाख रुपये के आसपास होती हैं, तो वहीं मिड साइज Tucson SUV के टॉप वेरिएंट कीमत 27 लाख रुपये तक है.

 

साइज में क्रेटा की राइवल के होने के बाद भी T-Roc की कीमत जीप Compass और हुंडई Tucson से मुकाबले के लिए रखी जाएगी. T-Roc की इतनी महंगी होने की वजह इसे यूरोप से भारत में इंपोर्ट किया जाना है. मिड साइज सेगमेंट में कीमत को जायज ठहराने के लिए कंपनी कार को ढेरों फीचर्स और पावरफुल वर्जन में उतारेगी.फॉक्सवैगन UK में मौजूद T-Roc के वर्जन को भारत में उतार सकती है. 7-स्पीड ऑटोमैटिक DSG ट्रांसमिशन के साथ 1.5-लीटर TSI EVO इंजन को भारत में लाया जा सकता है. UK-स्पेक वाले T-Roc में ये इंजन 150PS का मैक्जिमम पावर जनरेट करता है. तुलनात्मक तौर पर बात करें तो भारत में मौजूद Tucson 2.0-लीटर पेट्रोल वर्जन के साथ आती है जो 155PS का पावर जनरेट करता है. वहीं Compass में 1.4 लीटर मल्टीएयर पेट्रोल इंजन मिलता है जो 163PS का मैक्जिमम पावर जनरेट करता है.

Visitor Hit Counter

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

loading...