Mon. Mar 25th, 2019

अशोक गहलोत के बेटे वैभव का हो सकता है राजनीति में डेब्यू, जोधपुर या जालोर सिरोही सीट से चुनाव लड़ेंगे

भारत की राजनीतिक पार्टियों में परिवारवाद की जड़ें काफी मजबूत हैं. चुनावी मौसम के दौरान पार्टियों के भीतर का परिवारवाद ज्यादा तेजी से पनप कर सामने आता है. देश की सबसे पुरानी पार्टी कांग्रेस में अब गहलोत परिवार के दूसरे सदस्य की एंट्री हो सकती है. राजस्थान के सीएम अशोक गहलोत के बेटे वैभव गहलोत 2019 के लोकसभा चुनाव में किस्मत आजमा सकते हैं. वैभव गहलोत जालोर सिरोही लोकसभा सीट से राजनीति में डेब्यू कर सकते हैं. हालांकि उनके चुनाव लड़ने पर आखिरी फैसला होना बाकी है. ऐसी खबरें हैं कि वैभव जोधपुर लोकसभा से भी चुनाव लड़ सकते हैं. इन दोनों के अलावा सवाई माधोपुर सीट से भी उनके चुनाव लड़ने की चर्चा है.

 

वैभव काफी वक्त से कांग्रेस पार्टी से जुड़े हुए हैं. यह पहला मौका नहीं है जब वैभव गहलोत के डेब्यू की खबरें आई हैं. 2009 के लोकसभा चुनाव के दौरान भी वैभव गहलोक के सवाई माधोपुर लोकसभा सीट से चुनाव लड़ने की खबरें थीं. जोधपुर लोकसभा सीट पर कांग्रेस की मजबूती को देखते हुए विकल्प के तौर पर रखा गया है. विधानसभा चुनाव में जोधपुर लोकसभा क्षेत्र में आने वाली आठ विधानसभा सीटों पर कांग्रेस के एमएलए जीते थे, जबकि बीजेपी के खाते में सिर्फ दो सीटें गई. जोधपुर के सांसद गेजेंद्र सिंह शेखावत ने भी साफ कहा है कि वह किसी भी बड़ी चुनौती से निपटने के लिए तैयार है. शेखावत का कहना है कि पार्टी जिस भी सीट से उन्हें चुनाव लड़ने को कहेगी वो वहां से चुनाव लड़ेंगे.

 

चौथे और पांचवे चरण में होगा मतदान- 2014 में कांग्रेस लोकसभा की एक भी सीट नहीं जीत पाई थी. विधानसभा चुनाव में जीत हासिल करने के बाद कांग्रेस को राजस्थान से काफी उम्मीदें हैं. राजस्थान में चौथा चरण के दौरान 29 अप्रैल को सवाई माधोपुर, अजमेर, पाली, जोधपुर, बाड़मेर, जालौर, उदयपुर, बासंवाड़ा, चितौड़गढ़, राजसमंद, भीलवाड़ा, कोटा और झालावाड़-बारां सीट पर चुनाव होंगे. 6 मई को पांचवे चरण में श्रीगंगानर, बीकानेर, चूरू, झुंझूनूं, सीकर, जयपुर ग्रामीण, जयपुर, अलवर, भरतपुर, करौली-धौलपुर, दौसा और नागौर सीट पर लोकसभा चुनाव होगा.

Web Counter

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

loading...