14th July 2020

जल्द ही पेट्रोल और CNG की हो सकती है होम डिलीवरी, केंद्र सरकार ने दिए संकेत

  •   
  •  
  •  
  •  
  •   
  •  
  •  

नई दिल्ली: केंद्र जल्द ही तेल कंपनियों को पेट्रोल और सीएनजी की होम डिलीवरी शुरू करने के लिए हरी झंडी दे सकता है. पेट्रोलियम मंत्री धर्मेंद्र प्रधान ने शुक्रवार को देशभर में चल रहे लॉकडाउन प्रतिबंध के दौरान वाहन मालिकों की मदद के लिए यह कदम उठाया. मंत्री ने कहा कि सरकार डीजल की तरह “पेट्रोल और एलएनजी के लिए समान विस्तार करना चाहती है. लोग भविष्य में ईंधन की होम डिलीवरी कर पाएंगे.” भारत के सबसे बड़े ईंधन रिटेलर इंडियन ऑयल कॉर्पोरेशन ने 2018 में भारत के चुनिंदा शहरों में मोबाइल डिस्पेंसर के माध्यम से डीजल की होम डिलीवरी शुरू की थी.

लॉकडाउन के चलते आई मांग में कमी- भारत दुनिया में तेल का तीसरा सबसे बड़ा खरीदार है, लेकिन लॉकडाउन से मांग में भारी गिरावट आई है. भारत में ईंधन की खपत अप्रैल में लगभग 70 फीसदी कम हो गई. पेट्रोल की मांग अभी भी पिछले साल के समान समय से लगभग 47 फीसदी कम है, जबकि डीजल की खपत लगभग 35 फीसदी की कमी देखने को मिली है.

3,200 मोबाइल पेट्रोल पंप शुरू करने का है लक्ष्य- हाल ही में, रतन टाटा के नेतृत्व वाले टाटा समूह द्वारा समर्थित भारतीय स्टार्टअप रिपोज एनर्जी ने भी घर पर ईंधन प्रदान करने के लिए मोबाइल पेट्रोल पंपों के साथ आने की अपनी योजना की घोषणा की. पुणे स्थित कंपनी ने एक बयान जारी कर कहा कि इसका लक्ष्य चालू वित्त वर्ष में 3,200 ऐसे मोबाइल पेट्रोल पंप शुरू करना है.

एक ही स्टेशन पर मिलेंगे सभी ईंधन- पेट्रोलियम मंत्री ने यह भी संकेत दिया है कि जल्द ही ईंधन स्टेशनों को एक ही स्थान पर सीएनजी, एलएनजी और पीएनजी सहित सभी प्रकार के ईंधन प्रदान करवाए जाएंगे. हालांकि, कुछ प्लानिंग को देखते हुए वाहनों के लिए प्राकृतिक गैस की खुदरा बिक्री पंपों के बाहर लगी लंबी कतारों को देखते हुए की जाएगी.

इन राज्यों में शुरू हुए नए सीएनजी स्टेशन – प्रधान 11 राज्यों जैसे गुजरात, हरियाणा, झारखंड, कर्नाटक, मध्य प्रदेश, महाराष्ट्र, नई दिल्ली, पंजाब, राजस्थान, तेलंगाना और उत्तर प्रदेश में 56 नए सीएनजी स्टेशनों के उद्घाटन के अवसर पर इसकी घोषणा की. इससे दैनिक आधार पर लगभग 50,000 वाहनों को भरने में मदद मिलेगी.

hit counter

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *