14th July 2020

माइक्रोसॉफ्ट की हैकर्स को खुली चुनौती, कस्टम लिनक्स ओएस हैक करो और जीतो एक लाख डॉलर

  •   
  •  
  •  
  •  
  •   
  •  
  •  

सैन फ्रांसिस्को. अपने थ्री-मंथ्स चैलेंज में टेक कंपनी माइक्रोसॉफ्ट ने हैकर्स को खुली चुनौती दी है। कंपनी का कहना है कि कस्टम लिनक्स ओएस की सुरक्षा में सेंध लगाने वाले हैकर को एक लाख डॉलर की ईनामी राशि दी जाएगी। यह चैलेंज खासतौर से ऐज़र( Azure) स्पीयर ओएस पर फोक्स है, जिसके लिए माइक्रोसॉफ्ट ने पिछले साल लिनक्स के कॉम्पैक्ट और कस्टम वर्जन तैयार किया था। इस ओएस को इंटरनेट ऑफ थिंग्स प्लेटफार्म के चिपसेट में इस्तेमाल किया जाता है।

इस चैलेंज के जरिए ओएस को और ज्यादा सुरक्षित किया जा सकेगा- माइक्रोसॉफ्ट के सिक्योरिटी रिस्पॉन्स सेंटर के सिक्योरिटी प्रोग्रामर मैनेजर Sylvie Liu ने बताया कि इस नए रिसर्च चैलेंज का लक्ष्य ऐज़र स्पीयर ओएस को और अधिक सुरक्षित बनाना है। यह एक आईओटी सिक्योरिटी सॉल्यूशन है, जो हार्डवेयर को सुरक्षा प्रदान करता है। उन्होंने आगे कहा कि इस चैलेंज से सिक्योरिटी रिसर्च कम्युनिटी को भी व्यस्त रखा जा सकेगा ताकि हैकर्स से पहले वे इसमें खामी ढूंढे, ताकि ऐज़र स्पीयर के हैक होने के रिस्क को कम किया जा सके।

तीन महीने तक चलेगा चैलेंज- यह चैलेंज थ्री-मंथ्स रिसर्च चैलेंज का हिस्सा है, जो 1 जून से शुरू होकर 31 अगस्त तक चलेगा। इसमें जीतने वाला प्रतिभागी को ईमान स्वरूप एक लाख डॉलर की राशि दी जाएगी। कंपनी ने ऐज़र स्पीयर को पिछले साल बिल्ड डेवलपर्स कॉन्फ्रेंस में पेश किया था।

hit counter

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *