Mon. Oct 21st, 2019

लद्दाख क्षेत्र के विकास में एनएचपीसी की महत्वपूर्ण भूमिका- जनार्दन चौधरी

  •   
  •  
  •  
  •  
  •   
  •  
  •  

नई दिल्ली, ’’ फोकस न्यूज’’ संस्करण को लद्दाख में आयोजित भव्य समारोह में ’’लाॅंच’’ किया गया। लद्दाख क्षेत्र के विकास में एनएचपीसी की भूमिका को लेकर फोकस न्यूज के विशेष प्रतिनिधि ने एनएचपीसी के निदेशक (तकनीकी) जनार्दन चौधरी से विस्तार से चर्चा की। उन्होंने बताया कि एनएचपीसी की लद्दाख क्षेत्र के विकास में बहुत ही महत्वपूर्ण भूमिका रही है, विशेषकर बिजली के क्षेत्र में।

उन्होंने बताया कि हमने इस क्षेत्र में दो संयंत्र लगाए हैं, एक लेह क्षेत्र में और दूसरा कारगिल के क्षेत्र में और ये दोनों ही संयंत्र वर्ष 2013 से सफलतापूर्वक चल रहे हैं। इन संयंत्रों से लद्दाख क्षेत्र में बिजली की मांग को पूरा किया जा रहा है। अब हम राष्ट्रीय बिजली ग्रिड के माध्यम से श्रीनगर क्षेत्र को भी अधिशेष बिजली का निर्यात कर रहे हैं। एक अन्य प्रश्न के उत्तर में उन्होंने बताया कि जिस प्रकार से हम इस क्षेत्र में बिजली की मांग को पूरा कर रहे हैं, हमें विश्वास है अब यहां व्यापार को बढ़ावा मिलेगा। इससे इस क्षेत्र में युवाओं के लिए रोजगार के रास्ते ही खुलेंगे।

उन्होंने कहा कि इसके अलावा एनएचपीसी चंगलांग घाटी जैसे कुछ दूरदराज के क्षेत्रों में विद्युतीकरण और सीएसआर(काॅर्पोरेट सामाजिक जिम्मेदारी) के माध्यम से खाद्य प्रसंस्करण संयंत्रों में बिजली भी प्रदान कर रही है। हम सिंचाई, पीने के लिए पानी, विंटर ट्युशन, स्काॅलरशिप, स्मार्ट क्लास, सोलर लाइट, स्कूलों में वाटर प्यूरीफाइंग सिस्टम, पंप और पाइपलाइन मुहैया करा रहे हैं। इतना ही नहीं एनएचपीसी लेह में आईटीआई ( औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थान ) को अपना रहे हैं और उन्हें चला भी रहे हैं।

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के ’’स्वच्छ भारत अभियान’’ की प्रशंसा करते हुए उन्होंने कहा कि हमने इस क्षेत्र में कुछ शौचालयों का निर्माण प्रधानमंत्री के स्वच्छ भारत अभियान को बढ़ावा देने के लिए किया है। हम नियमित रूप से इस क्षेत्र में चिकित्सा शिविर और समय-समय पर चिकित्सा उपकरण भी प्रदान करते रहते हैं। हमने पिछले पांच वर्षो में लेह क्षेत्र में सामाजिक कल्याण के उद्देश्य के लिए लगभग 4.7 करोड़ रू. और कारगिल क्षेत्र में 2.08 करोड़ जनता की भलाई के लिए खर्च किए हैं।

मोदी शासन के सबसे महत्वपूर्ण विभाग जल शक्ति, जल संस्थान (जल ऊर्जा, जल संरक्षण) के विशेष मिशन की पूर्ति के लिए एनएचपीसी की क्या योजना है , इसके जवाब में उन्होंने कहा कि बांधों में संरक्षित जल को क्षेत्र में ठीक से और अधिक प्रभावी ढ़ंग से वितरित करने का प्रबंधन भी कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि हम राज्य सरकार के साथ साझेदारी करके इस क्षेत्र में और अधिक बिजली संयंत्र लगाने के लिए भी प्रयास कर रहे हैं।

एक अन्य प्रश्न के उत्तर में उन्होंने बताया कि एनएचपीसी लोगों की सुविधा के लिए प्रतिबद्ध है। एनएचपीसी ने हाल ही में विभिन्न कार्यालयों, कैंटीन और परियोजना प्रभावित लोगों की भर्ती के लिए प्रत्येक सेवा अनुबंध में एक अनिवार्य खंड शामिल करने की नीति अपनाई है जो उन्हें नौकरी के अवसर प्रदान करेगी।

जब उनसे पूछा गया कि क्या नीति के अनुसार केवल पुनर्वासित लोगों को ही लाभ होगा, तो उन्होंने कहा कि नहीं, हम प्राथमिकता के अनुसार प्रभावित लोगों को पहले सुविधा प्रदान करते हैं और अतिरिक्त आवश्यकता स्थानीय लोगों से पूरी की जाएगी ।

चर्चा के अन्त में उन्होंने आशा व्यक्त करते हुए कहा कि ’’फोकस न्यूज’’ के लद्दाख संस्करण के उद्घाटन होने से यहां के स्थानीय लोगों के साथ ही देश के बाकी हिस्सों के पाठकों को भी एनएचपीसी की इन सफल गतिविधियों की पूरी जानकारी मिलेगी। ’’ फोकस न्यूज’’ के लद्दाख संस्करण की सफलता के लिए मेरी हार्दिक शुभकामनाएं। ’’

Visitor Hit Counter

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

loading...