Mon. Mar 25th, 2019

महाभारत युद्ध के बाद अर्जुन नहीं युधिष्ठिर बने हस्तिनापुर के राजा, नकुल को मिला सेना का काम और भीम बने युवराज

महाभारत युद्ध के मुख्य पात्रों में से एक अर्जुन को राजा नहीं बनाया गया। वहीं उनकी जगह उनके बड़े भाई युधिष्ठिर का राज्याभिषेक किया गया। महाभारत के शांति पर्व के अनुसार अन्य भाइयों को हस्तिनापुर राज्य की अलग-अलग महत्वपूर्ण जिम्मेदारियां दी गई थीं। युधिष्ठिर के बाद भीम को हस्तिनापुर का उत्तराधिकारी भी घोषित किया गया। इसके अलावा कई लोगों को ये नहीं पता कि अर्जुन और नकुल, सहदेव को क्या मिला।

 

महाभारत युद्ध के बाद किस भाई को क्या मिला जानिए
महाभारत के शांति पर्व के अनुसार, युद्ध में जीतकर ऋषियों के कहने पर पांडव हस्तिनापुर गए। वहां विधि-विधान से युधिष्ठिर का राज्याभिषेक हुआ।

 

राज्याभिषेक होने के बाद युधिष्ठिर ने भीम को युवराज के पद पर नियुक्त किया। विदुरजी को राजकाल संबंधी सलाह देने का, निश्चय करने का तथा संधि, विग्रह आदि छ: बातों का निर्णय लेने का अधिकार दिया गया।

सेना की गणना करना, उसे भोजन और वेतन देने का काम नकुल को दिया गया। शत्रु के देश पर चढ़ाई करने तथा दुष्टों को दंड देने का काम अर्जुन को दिया गया।
ब्राह्मण और देवताओं के काम पर तथा पुरोहिती के दूसरे कामों पर महर्षि धौम्य नियुक्त हुए। सहदेव को युधिष्ठिर ने अपने साथ रखा।

 

विदुर, संजय और युयुत्सु से कहा कि तुम हमेशा राजा धृतराष्ट्र की सेवा में रहना और उन्हीं की आज्ञा की पालन करना। इस प्रकार युधिष्ठिर ने अन्य लोगों को भी उनके सामर्थ्य के अनुसार अलग-अलग काम सौंप दिए।

Web Counter

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

loading...