13th June 2021

Good News: भारतीय कर्मचारियों की लगेगी लॉटरी, इस साल मिलेगा डबल इंक्रीमेंट:रिपोर्ट

  •   
  •  
  •  
  •  
  •   
  •  
  •  

नई दिल्ली। नया साल देश के नौकरीपेशा वर्ग के लिए बड़ी खुशखबरी ला सकता है। एक ताजा रिपोर्ट के अनुसार कंपनिया पिछले साल के मुकाबले कर्मचारियों को करीब दोगुना इंक्रीमेंट दे सकती हैं। सर्वेक्षण बताता है कि इस साल तेजी से आर्थिक सुधार और व्यापार और उपभोक्ता विश्वास में सुधार की उम्मीद के बीच कर्मचारियों को औसतन 7.3 प्रतिशत इंक्रीमेंट मिल सकता है। डेलॉयट टूचे टोहमात्सु इंडिया एलएलपी (DTTILLP) द्वारा 2021 वर्कफोर्स एंड इन्क्रीमेंट ट्रेंड्स सर्वे के पहले चरण में यह भी कहा गया कि इस साल का औसत इंक्रीमेंट 2020 के 4.4 प्रतिशत के मुकाबले कहीं अधिक होग। हालांकि यह वृद्धि 2019 से कम होगी। 2019 में कंपनियों द्वारा 8.6 प्रतिशत औसत इंक्रीमेंट दिया गया था।

पिछले वर्ष जहां केवल 60 प्रतिशत कंपनियां इस सर्वे में शामिल हुई थीं। इसकी तुलना में 2021 में इंक्रीमेंट से जुड़े सर्वेक्षण में 92 प्रतिशत कंपनियों ने भाग लिया। दिसंबर 2020 में बी 2 बी इंडिया-विशिष्ट सर्वेक्षण के रूप में शुरू किए गए इस सर्वेक्षण में सात क्षेत्रों और 25 उप-क्षेत्रों में फैले लगभग 400 संगठनों को शामिल किया गया। डेलॉयट टच तोहमात्सु इंडिया एलएलपी द्वारा कार्यबल एवं वेतन बढ़ोतरी के रुझानों के लिए किए गए 2021 के पहले चरण के सर्वेक्षण में पाया गया कि इस साल वेतन में औसत बढ़ोतरी 2020 के 4.4 प्रतिशत से अधिक, लेकिन 2019 के 8.6 प्रतिशत से कम रहेगी। इस साल सर्वेक्षण में शामिल होने वाली 92 प्रतिशत कंपनियों ने वेतन बढ़ोतरी की बात कही, जबकि पिछले साल सिर्फ 60 प्रतिशत ने ऐसा कहा था।

सर्वेक्षण दिसंबर 2020 में शुरू हुआ और इसमें सात क्षेत्रों तथा 25 उप क्षेत्रों की करीब 400 कंपनियां शामिल हुईं।सर्वेक्षण में कहा गया कि भारत में औसत वेतन बढ़ोतरी 7.3 प्रतिशत रहने की उम्मीद है, जो 2020 के 4.4 प्रतिशत से अधिक है। आर्थिक गतिविधियों में उम्मीद से अधिक तेजी से सुधार, उपभोक्ता विश्वास में बढ़ोतरी तथा बेहतर मार्जिन के चलते कंपनियों ने वेतन बढ़ोतरी के लिए अपने बजट को बढ़ाया है। नजीतों के मुताबिक 20 प्रतिशत कंपनियों ने इस साल दो अंकों में वेतन बढ़ोतरी की योजना बनाई है, जबकि 2020 में यह आंकड़ा सिर्फ 12 प्रतिशत था। सर्वेक्षण के मुताबिक जिन कंपनियों ने पिछले साल वेतन बढ़ोतरी नहीं की थी, उनमें से एक-तिहाई इस साल अधिक बढ़ोतरी या बोनस के रूप में उसकी भरपाई करने की तैयारी कर रही हैं।

कहां होगा सबसे ज्यादा इंक्रीमेंट- सर्वेक्षण में कहा गया है कि लाइफ साइंसेस और सूचना प्रौद्योगिकी (आईटी) क्षेत्रों को सबसे अधिक वेतन वृद्धि की उम्मीद है, जबकि मैन्युफैक्चरिंग और सेवा क्षेत्र अपेक्षाकृत कम वेतन वृद्धि की संभावना है। लाइफ साइंसेस ही एकमात्र ऐसा क्षेत्र है जो 2019 के वेतन वृद्धि के स्तर का मुकाबला करने में सक्षम होगा। दूसरों के लिए, 2021 में औसत वेतन वृद्धि 2019 से कम होने की उम्मीद है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *