Tue. Jul 16th, 2019

राष्ट्रभक्ति एवं राष्ट्र गौरव के प्रतीक हैं ये दोनों स्मारक: मुख्यमंत्री

  •   
  •  
  •  
  •  
  •   
  •  
  •  

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ अपने दिल्ली प्रवास के दौरान रविवार को इण्डिया गेट स्थित राष्ट्रीय समर स्मारक (नेषनल वाॅर मैमोरियल) पहुंचे। इसके उपरान्त वे चाणक्यपुरी स्थित नेषनल पुलिस मेमोरियल भी गए। उन्होंने शहीदों की शौर्य गाथा एवं पराक्रम की याद दिलाने के लिये भारत सरकार द्वारा बनाये गये राष्ट्रीय समर स्मारक एवं नेशनल पुलिस मेमोरियल के भ्रमण के दौरान शहीदों को नमन करते हुये श्रद्धासुमन अर्पित किये। इस अवसर पर मुख्यमंत्री जी ने राष्ट्रीय समर स्मारक की विजिटर बुक में लिखा कि ‘राष्ट्रभक्ति एवं राष्ट्र गौरव का प्रतीक राष्ट्रीय समर स्मारक भारत के वीर सैनिकों की गौरव गाथा का जीवन्त चित्रण है। इसके प्रेरक आदरणीय प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी ने देष की वर्तमान एवं भावी पीढ़ी के लिये एक प्रेरणादायी स्थल प्रदान किया है। प्रत्येक भारतीय को अपने सैनिकों के शौर्य पराक्रम पर गौरव की अनुभूति होती है।’

 

नेषनल पुलिस मैमोरियल में शहीदों को नमन एवं पुष्प चक्र अर्पित करने के बाद मुख्यमंत्री जी ने कहा कि प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी की प्रेरणा से उनके मार्गदर्षन में बनाये गये इन दोनों स्मारकों को देखने का सुनहरा अवसर प्रदान हुआ है। राष्ट्रीय स्मारक भारत के वीर जवानों के 1947 से लेकर अब तक शौर्य एवं पराक्रम की गाथा को गाते हैं। मुख्यमंत्री जी ने कहा कि हमारे जितने भी सेना और पुलिस के अधिकारी और जवान शहीद हुये हैं, उनके स्मारकों को देखने और सभी जवानों और अधिकारियों, जिन्होंने देष की सुरक्षा के लिये अपना बलिदान दिया है, उनकी शहादत को नमन करने का आज अवसर प्राप्त हुआ है। साथ ही साथ भारत के अन्दर आन्तरिक सुरक्षा और कानून व्यवस्था को बनाये रखने के लिये हमारे पुलिस बल, जिसमें पैरा मिलिट्री भी है, इसके लिये राष्ट्रीय पुलिस स्मारक भी बनाया गया है। इन वीर जवानों के शौर्य और पराक्रम व बलिदान के कारण देष में वाहय सुरक्षा, आन्तरिक सुरक्षा और देष के अन्दर कानून के राज को स्थापित करने में सफल हो पाते हैं, यह अत्यंत ही सराहनीय प्रयास है। उन्होंने नेषनल पुलिस म्यूजियम का भी भ्रमण किया। तत्पष्चात उन्होंने एन0डी0एम0सी0 नर्सरी चाणक्यपुरी में जाकर आंवले का पौधा रोपित कर पर्यावरण के प्रति जागरूक रहने का सन्देष दिया।

 

समर स्मारक में भ्रमण के दौरान मुख्यमंत्री जी ने बारी-बारी से प्रत्येक शहीद जवान के स्टैच्यू पर जाकर उनके शौर्य और पराक्रम के बारे में जानकारी प्राप्त की। इस दौरान उन्होंने स्मारक परिसर में घूमने आये नन्हें पयर्टकों के साथ फोटो भी खिंचवाई। उन्होंने कहा मुझको दोनों स्मारकों में अपने वीर जवानों को नमन करने और श्रद्धांजलि प्रदान करने का सौभाग्य प्राप्त हुआ है। वर्तमान भावी पीढ़ी इससे अवष्य ही प्रेरणा प्राप्त करेगी। उन्होंने कहा कि आज की वर्तमान पीढ़ी को इन स्मारकों पर अवष्य आना चाहिये। मुख्यमंत्री जी के दोनों स्मारकों के भ्रमण के दौरान सेना एवं पुलिस के वरिष्ठ अधिकारी, मुख्यमंत्री जी के सूचना सलाहकार मृत्युंजय कुमार सिंह सहित प्रदेष सरकार के अन्य वरिष्ठ अधिकारीगण आदि उपस्थित थे। इससे पूर्व प्रातः मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी ने केन्द्रीय रक्षा मंत्री श्री राजनाथ सिंह से उनके आवास पर षिष्टाचार भेंट की।

Visitor Hit Counter

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

loading...