10th April 2020

कोहली की बैटिंग से गदगद हुए अमिताभ, कैप्टन ने ऐसे दिया जवाब

  •   
  •  
  •  
  •  
  •   
  •  
  •  

पश्चिम बंगाल के राज्यपाल जगदीप धनखड़ कहते हैं कि ये बेहद दुर्भाग्यपूर्ण है कि मैं सदन में जाता हूं और वहां गेट बंद मिलता है. स्पीकर ने लंच पर बुलाया था लेकिन वे खुद वहां नहीं थे. सदन खाली था. कुछ लोगों ने खुद को कमरे में बंद कर लिया था. वहां कोई क्लास-4 कर्मचारी भी नहीं था जो मेरे स्वागत के लिए खड़ा हो. मुझे लगता है कि स्वच्छ भारत अभियान सबसे पहले पश्चिम बंगाल के विधानसभा से शुरू होना चाहिए. पश्चिम बंगाल के राज्यपाल जगदीप धनखड़ ने ये बातें कोलकाता में चल रहे इंडिया टुडे कॉनक्लेव ईस्ट में कहीं. राज्यपाल धनकर ने कहा कि लोग मुझपर आरोप लगाते हैं कि मैं सीएम ममता और सरकार के काम में रुकावट पैदा करता हूं. लेकिन होता इसका उलटा है. यहां तो मैं रिसीविंग एंड पर हूं. वो लोग मेरे सामने समस्याएं खड़ी कर रहे हैं.

प. बंगाल के 5-6 मंत्री कहते हैं- मैं पर्यटक हूं- पश्चिम बंगाल के पांच-छह सीनियर मंत्री कहते हैं कि अगर आपको सीएम से मिलना है तो ‘दीदी के’ बोलो. आप यहां पर्यटक हैं. आप यहां घूमने आए हैं. इन सबके बारे में और लोगों की समस्याओं के बारे में मैंने कई पत्र भेजे हैं सीएम को. लेकिन मुझे कोई रिस्पॉन्स नहीं मिलता. सीएम ने बुलबुल तूफान में अच्छा काम किया तो मैंने पत्र लिखकर उनके काम की तारीफ की. लेकिन ऐसे में मीडिया में हेडिंग बन जाती है कि मैं सीएम की तारीफ करता हूं. लेकिन अगर सरकार ये चाहे कि मैं बतौर राज्यपाल सीएम की तारीफ करता रहूं तो मैं उसके लिए नहीं बैठा हूं.

प. बंगाल में लोकतंत्र खत्म हो चुका है- राज्यपाल जगदीप धनखड़ ने कहा कि प. बंगाल में लोकतंत्र खत्म हो चुका है. वीसी रूम बंद हो जाता है. विधानसभा का गेट बंद हो जाता है. मैं शहरों के दौरे पर जाता हूं तो मुझे वहां अधिकारी, कर्मचारी…कोई मिलता ही नहीं है. ये लोकतंत्र का खात्मा नहीं है तो क्या है? ये वैसा ही काम है जैसा औरंगजेब ने शिवाजी के साथ किया था. मैं ममता को औरंगजेब नहीं कह रहा. लेकिन प. बंगाल की आयरन लेडी औरंगजेब की तरह काम कर रही हैं. लोग आरोप लगाते हैं कि मैं समानांतर सरकार चला रहा हूं. लेकिन अगर मैं समानांतर सरकार चलाता तो ये सब नहीं होता.

कोहली की बैटिंग से गदगद हुए अमिताभ, कैप्टन ने ऐसे दिया जवाब- वेस्टइंडीज के खिलाफ हैदराबाद में खेले गए पहले टी-20 मैच में टीम इंडिया के कप्तान विराट कोहली ने पर्ची फाड़ने वाले अंदाज में जश्न मनाया था. कोहली का जश्न देख सभी दंग रह गए. कोहली ने ‘नोटबुक उत्सव’ मनाया, जिससे हैदराबाद की भीड़ रोमांचित हो उठी. विराट कोहली की धमाकेदार बल्लेबाजी के बाद उनके पर्ची फाड़ने वाले जश्न को देखकर महानायक अमिताभ बच्चन ने भी ट्विटर पर अपनी प्रतिक्रिया दी और वर्षों पुरानी अपनी ही फिल्म ‘अमर अकबर एन्थोनी’ का मशहूर डायलॉग ‘- ‘अभी पर्ची लिख के दे दिया ना हाथ में’ दे मारा. अमिताभ ने ट्वीट कर विराट की तस्वीरें शेयर कीं और लिखा, ‘यार कितनी बार बोला मई तेरे को.. कि विराट को मत छेड़, मत छेड़, मत छेड़… पन सुनताइच किधर है तुम… अभी पर्ची लिख के दे दिया ना हाथ में!!!! देख देख… वेस्टइंडीज का चेहरा देख कितना मारा उसको, कितना मारा!!”


दरअसल, इस मैच में कप्तान कोहली भारत को जीत दिलाने के संकल्प के साथ बल्लेबाजी करने उतरे थे. कोहली ने वेस्टइंडीज के लक्ष्य को भेदने के लिए पूरा जोर लगा दिया. अपनी तूफानी पारी के दौरान वह उस वक्त गुस्से से भर गए, जब केसरिक विलियम्स 13वें ओवर में उनसे टकरा गए, वो भी बीच पिच पर. वेस्टइंडीज के लक्ष्य को भेदने के लिए कोहली ने पूरा जोर लगा दिया. दरअअसल, 13वें ओवर में कोहली और केसरिक विलियम्स आधी पिच पर एक-दूसरे से लगभग टकरा से गए थे. क्योंकि गेंदबाज गेंद पर झपट रहा था और बल्लेबाज एक रन के लिए छोर बदलने में लगे थे. कोहली ने तुरंत अंपायर से शिकायत की.विलियम्स ने माफी मांगते हुए सीधे हाथ उठाया, लेकिन कोहली की आक्रामकता अचूक थी.कोहली ने विलियम्स के अगले ओवर में धमाकेदार बल्लेबाजी की. भारत को (16वें ओवर में) अभी भी 30 गेंदों में 54 रन चाहिए थे. उस ओवर की पहली गेंद को कोहली ने गेंदबाज के सिर के ऊपर से उछाला और चौका हासिल किया. अगली गेंद पर फ्लिक कर कोहली ने लेग साइड पर प्रहार कर छक्का उड़ाया. वेस्टइंडीज के खिलाड़ी बस देखते रह गए.


इसके बाद कोहली ने ऐसा किया, जिसे देख सभी दंग रह गए. कोहली ने ‘नोटबुक उत्सव’ मनाया, जिससे हैदराबाद की भीड़ रोमांचित हो उठी. केसरिक विलियम्स के लिए ऐसा लगा कि अब कुछ नहीं बचा है. दरअसल, कोहली ने पर्ची फाड़ने के अंदाज में क्रीज पर जश्न मनाया.सच तो यह है कि कोहली ने बदला पूरा किया. 2017 में केसरिक विलियम्स ने कोहली को आउट कर कुछ इसी तरह का जश्न मनाया था, जिसे भारत के कप्तान अब तक नहीं भूले थे. यह घटना जमैका में खेले गए टी-20 के दौरान देखी गई थी, तब विलियम्स ने कोहली को 29 के स्कोर पर आउट कर दिया था और पर्ची फाड़ने के अंदाज में अपनी खुशी जाहिर की थी.इस मैच में कप्तान विराट कोहली (नाबाद 94) की बेहतरीन तूफानी पारी के दम पर भारत ने विंडीज द्वारा रखे गए 208 रनों के विशाल लक्ष्य को आसान साबित कर छह विकेट से जीत दर्ज की.

hit counter

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *