10th April 2020

रहाणे ने ऋषभ पंत का कराया सच से सामना, टीम में बने रहने के लिए दिया ये ‘गुरुमंत्र’

  •   
  •  
  •  
  •  
  •   
  •  
  •  

भारत के उपकप्तान अजिंक्य रहाणे ने अपने जूनियर साथी ऋषभ पंत को बड़ी सलाह दी है. उन्होंने कहा कि पंत को स्वीकार करने की जरूरत है कि वह खराब दौर से गुजर रहे हैं और उन्हें बतौर क्रिकेटर बेहतर होने पर फोकस जारी रखना होगा. न्यूजीलैंड के खिलाफ टेस्ट सीरीज की शुरुआत 21 फरवरी से वेलिंग्टन में होगी. पहले टेस्ट में पंत को खेलने का मौका शायद ही मिले, उनकी जगह ऋद्धिमान साहा प्लेइंग इलेवन का हिस्सा बन सकते हैं. 22 साल के ऋषतभ पंत पांच महीने पहले तक विकेटकीपर बल्लेबाज के तौर पर तीनों फॉर्मेट में टीम इंडिया की पहली पसंद थे. अब उन्होंने अपना वो स्थान गंवा दिया है. सीमित ओवरों के क्रिकेट में केएल राहुल ने उन्हें ‘बेदखल’ कर दिया, जबकि टेस्ट में ऋद्धिमान साहा काबिज हो गए हैं.

अजिंक्य रहाणे खुद भी चयन को लेकर खराब दौर देख चुके हैं. उन्होंने इस युवा क्रिकेटर का हौसला बढ़ाया है. रहाणे ने कहा, ‘यह महत्वपूर्ण है कि आप जो भी कर रहे हैं, उसे स्वीकार करें. सकारात्मक रहें, कोशिश करें और किसी भी खिलाड़ी से अधिक से अधिक चीजें सीखें, बात सीनियर या जूनियर की नहीं है.’ यह पूछे जाने पर कि कोई अपने खराब दौर से कैसे निकल सकता है, रहाणे ने कहा, ‘आत्मनिरीक्षण महत्वपूर्ण है. देखें, कोई भी बाहर बैठना पसंद नहीं करता है. लेकिन आपको यह स्वीकार करना होगा कि टीम को उस दिन क्या जरूरत है. हर खिलाड़ी के लिए स्थिति को स्वीकार करना अहम है, जो हम नियंत्रण में रख सकते हैं, उसी पर ध्यान केंद्रित करना होगा. बतौर क्रिकेटर मेहनत करते रहना होगा.’ 2018 के दक्षिण अफ्रीका दौरे में टेस्ट इलेवन से बाहर किए गए रहाणे चाहते हैं कि पंत यह कल्पना करें कि उनको कभी भी मौका मिल सकता है.

hit counter

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *